Skip to main content

भारत के राष्ट्रीय उद्यान - राज्यवार

🎓  नेशनल पार्क ~राज्यवार 
🌴राजस्थान 1. केवला देवी राष्ट्रीय उद्यान 2. रणथ्मभोर राष्ट्रीय पार्क 3. सरिस्का राष्ट्रीय उद्यान 4. डैजर्ट राष्ट्रीय पार्क 5. दर्रा राष्ट्रीय पार्क 6. घना पक्षी राष्ट्रीय पार्क 7. केवला देवी राष्ट्रीय पार्क 8. ताल छापर अभ्यारण्य 9. माउंट आबू वाईल्ड लाइफ सैंचुरी
🌴मध्य प्रदेश 1. कान्हा राष्ट्रीय पार्क 2. पेंच राष्ट्रीय पार्क 3. पन्ना राष्ट्रीय पार्क 4. सतपुड़ा राष्ट्रीय पार्क 5. वन विहार पार्क 6. रुद्र सागर झील राष्ट्रीय पार्क 7. बांधवगढ नेशनल पार्क 8. संजय नेशनल पार्क 9. माधव राष्ट्रीय पार्क 10. कुनो नेशनल पार्क 11. माण्डला प्लांट फौसिल राष्ट्रीय पार्क
🌴अरुणाचल प्रदेश 1. नामदफा राष्ट्रीय पार्क
🌴हरियाणा 1. सुलतानपुर राष्ट्रीय पार्क 2. कलेशर राष्ट्रीय पार्क
🌴उत्तर प्रदेश 1. दूदवा राष्ट्रीय पार्क 2. चन्द्रप्रभा वन्यजीव विहार
🌴झारखंड 1. बेतला राष्ट्रीय पार्क 2. हजारीबाग राष्ट्रीय पार्क 3. धीमा राष्ट्रीय पार्क
🌴मणिपुर 1. काइबुल लाम्झो राष्ट्रीय पार्क 2. सिरोही राष्ट्रीय पार्क
🌴सिक्किम 1. खांचनजोंगा राष्ट्रीय पार्क
🌴तरिपुरा 1. क्लाउडेड राष्ट्रीय पार्क
🌴तमिलनाडु 1. गल्फ आफ मनार राष्ट्रीय पार्क 2. इन्…

THE CONSTITUTION (FORTY-EIGHTH AMENDMENT)

THE CONSTITUTION (FORTY-EIGHTH AMENDMENT)

Statement of Objects and Reasons appended to the Constitution
         (Fiftieth Amendment) Bill, 1984 which was enacted as
         THE CONSTITUTION (Forty-eighth Amendment) Act, 1984

STATEMENT OF OBJECTS AND REASONS

The  Proclamation  issued  by the President under article 356  of  the
Constitution on the 6th day of October, 1983 with respect to the State
of  Punjab cannot be continued in force for more than one year  unless
the  special conditions mentioned in clause (5) of article 356 of  the
Constitution  are satisfied.  Although the Legislative Assembly is  in
suspended  animation and a popular government can be installed, having
regard  to  the prevailing situation in the State, the continuance  of
the  Proclamation  beyond  5th  October, 1984 may  be   necessary.   To
facilitate  the  adoption  of  a  resolution  by  the   two  Houses  of
Parliament  approving  the  continuance in force of  the   Proclamation
beyond  5th October, 1984, it is necessary to amend article 356 of the
Constitution.  It is therefore proposed to amend clause (5) of article
356  so  as to make the conditions mentioned therein inapplicable  for
the  purposes of the continuance in force of the said Proclamation  up
to a period of two years from the date of its issue.

NEW DELHI;                                     P. V. NARASIMHA RAO.

The 13th August, 1984.

THE CONSTITUTION (FORTY-EIGHTH AMENDMENT)
                              ACT, 1984

                                        [26th August, 1984.]

An Act further to amend the Constitution of India.

BE  it enacted by Parliament in the Thirty-fifth Year of the  Republic
of India as follows:-

1.  Short title.-This Act may be called the Constitution (Forty-eighth
Amendment) Act, 1984.

2.   Amendment of article 356.-In article 356 of the Constitution,  in
clause  (5),  the  following  proviso shall be  inserted  at   the  end
namely:-

`Provided that in the case of the Proclamation issued under clause (1)
on  the 6th day of October, 1983 with respect to the State of  Punjab,
the  reference in this clause to "any period beyond the expiration  of
one  year" shall be construed as a reference to "any period beyond the
expiration of two years".'.

 

Comments

Popular posts from this blog

आदित्य हृदय स्तोत्र

वाल्मीकि रामायण के अनुसार “आदित्य हृदय स्तोत्र” अगस्त्य ऋषि द्वारा भगवान् श्री राम को युद्ध में रावण पर विजय प्राप्ति हेतु दिया गया था।आदित्य ह्रदय स्तोत्र का पाठ नियमित  करने से अप्रत्याशित लाभ मिलता है। आदित्य हृदय स्तोत्र के पाठ से नौकरी में पदोन्नति, धन प्राप्ति, प्रसन्नता, आत्मविश्वास के साथ-साथ समस्त कार्यों में सफलता मिलती है। हर मनोकामना सिद्ध होती है। इसके नियमित पाठ से मानसिक कष्ट, हृदय रोग, तनाव, शत्रु कष्ट और असफलताओं पर विजय प्राप्त की जा सकती है. इस स्तोत्र में सूर्य देव की निष्ठापूर्वक उपासना करते हुए उनसे विजयी मार्ग पर ले जाने का अनुरोध है. आदित्य हृदय स्तोत्र सभी प्रकार के पापों , कष्टों और शत्रुओं से मुक्ति कराने वाला, सर्व कल्याणकारी, आयु, उर्जा और प्रतिष्ठा बढाने वाला अति मंगलकारी विजय स्तोत्र है।
पढ़ें संपूर्ण पाठ...   विनियोग ॐ अस्य आदित्यह्रदय स्तोत्रस्य अगस्त्यऋषि: अनुष्टुप्छन्दः आदित्यह्रदयभूतो
भगवान् ब्रह्मा देवता निरस्ताशेषविघ्नतया ब्रह्माविद्यासिद्धौ सर्वत्र जयसिद्धौ च विनियोगः पूर्व पिठिता ततो युद्धपरिश्रान्तं समरे चिन्तया स्थितम्‌ । रावणं चाग्रतो दृष्ट्वा युद्…

Full form of AICTE

The Full Form of AICTE is - 
A -  AllI  -  IndiaC - Council for T - TechnicalE - Education
About AICTEThe All India Council for Technical Education(AICTE) is the statutory body and a national-level council for technical education, under Department of Higher Education, Ministry of Human Resource Development. It was established in November 1945 first as an advisory body and later on in 1987 given statutory status by an Act of Parliament.
AICTE is responsible for proper planning and coordinated development of the technical education and management education system in India. 
The AICTE accredits postgraduate and graduate programs under specific categories at Indian institutions as per its charter. https://youtu.be/ws4V8HBtYaU

प्रमुख उत्पादन क्रांतियां

🌎🌎प्रमुख उत्पादन क्रान्तियां
🌎भूरी क्रांति – उर्वरक उत्पादन
🌎रजत क्रांति – अंडा उत्पादन
🌎पीली क्रांति – तिलहन उत्पादन
🌎कृष्ण क्रांति – बायोडीजल उत्पादन
🌎लाल क्रांति – टमाटर/मांस उत्पादन
🌎गुलाबी क्रांति – झींगा मछली उत्पादन
🌎बादामी क्रांति – मासाला उत्पादन
🌎सुनहरी क्रांति – फल उत्पादन
🌎अमृत क्रांति – नदी जोड़ो परियोजनाएं
🌎धुसर/स्लेटी क्रांति– सीमेंट
🌎गोल क्रांति– आलु
🌎सदाबहार क्रांति– जैव तकनीकी
🌎सेफ्रॉन क्रांति– केसर उत्पादन से
🌎स्लेटी/ग्रे क्रांति–उर्वरको के उत्पादन से
🌎हरित सोना क्रांति–बाँस उतपादन से
🌎मूक क्रांति–   मोटेअनाजों के उत्पादन से
🌎परामनी क्रांति– भिन्डी उत्पादन से
🌎ग्रीन गॉल्ड क्रांति– चाय उत्पादन से
🌎खाकी क्रांति– चमड़ा उत्पादन से

भारत के राष्ट्रीय उद्यान - राज्यवार

🎓  नेशनल पार्क ~राज्यवार 
🌴राजस्थान 1. केवला देवी राष्ट्रीय उद्यान 2. रणथ्मभोर राष्ट्रीय पार्क 3. सरिस्का राष्ट्रीय उद्यान 4. डैजर्ट राष्ट्रीय पार्क 5. दर्रा राष्ट्रीय पार्क 6. घना पक्षी राष्ट्रीय पार्क 7. केवला देवी राष्ट्रीय पार्क 8. ताल छापर अभ्यारण्य 9. माउंट आबू वाईल्ड लाइफ सैंचुरी
🌴मध्य प्रदेश 1. कान्हा राष्ट्रीय पार्क 2. पेंच राष्ट्रीय पार्क 3. पन्ना राष्ट्रीय पार्क 4. सतपुड़ा राष्ट्रीय पार्क 5. वन विहार पार्क 6. रुद्र सागर झील राष्ट्रीय पार्क 7. बांधवगढ नेशनल पार्क 8. संजय नेशनल पार्क 9. माधव राष्ट्रीय पार्क 10. कुनो नेशनल पार्क 11. माण्डला प्लांट फौसिल राष्ट्रीय पार्क
🌴अरुणाचल प्रदेश 1. नामदफा राष्ट्रीय पार्क
🌴हरियाणा 1. सुलतानपुर राष्ट्रीय पार्क 2. कलेशर राष्ट्रीय पार्क
🌴उत्तर प्रदेश 1. दूदवा राष्ट्रीय पार्क 2. चन्द्रप्रभा वन्यजीव विहार
🌴झारखंड 1. बेतला राष्ट्रीय पार्क 2. हजारीबाग राष्ट्रीय पार्क 3. धीमा राष्ट्रीय पार्क
🌴मणिपुर 1. काइबुल लाम्झो राष्ट्रीय पार्क 2. सिरोही राष्ट्रीय पार्क
🌴सिक्किम 1. खांचनजोंगा राष्ट्रीय पार्क
🌴तरिपुरा 1. क्लाउडेड राष्ट्रीय पार्क
🌴तमिलनाडु 1. गल्फ आफ मनार राष्ट्रीय पार्क 2. इन्…

Important Battles of Indian History

327-326 B.C. – Alexander invades India. Defeats Porus in the Battle of Hydaspes (Jhelum)326 B.C. 305 B.C. – Chandragupta Maurya defeats the Greek king Seleucus.216 B.C. – The Kalinga War. Conquest of Kalinga by Ashoka.155 B.C. – Menander’s invasion of India. 90 B.C. – The Sakas invade India.454 – The first Huna invasion.495 – The second Huna invasion.711-712 – The Arab invasion of Sind under Mohammed-binQasim.1000-1027 – Mahmud Ghazni invades India 17 times.1175 - 1206- Invasions of Muhammad Ghori.1191- First Battle of Tarain, Prithvi Raj Chauhan defeats Muhammad Ghori. 1192- Second Battle of Tarain, Muhammad Ghori defeats Prithviraj Chauhan;1194 - Battle of Chandawar, Muhammad Ghori defeats Jayachandra Gahadvala of Kannauj.1294 – Alauddin Khalji invades the Yadava kingdom of Devagiri. The first Turkish invasion of the Deccan.1398 – Taimur invades India. Defeats the Tughlaq Sultan Mahmud Shah; the Sack of Delhi.1526 – Babur invades India and defeats the last Lodi Sultan Ibrahim Lodi i…